“मूत्र संबंधित समस्याओं के घरेलू उपचार”

इस रोग में मूत्राशय में दर्द होता है और बार-बार पेशाब जाने की इच्छा होती है और पेशाब करते समय मूत्राशय में जलन और दर्द होता है। कष्ट के साथ पेशाब आता है। इस बीमारी के घरेलू उपचार निम्नलिखित है:-

— प्रतिदिन गाजर का रस पीने से जलन में आराम मिलता है।

— 5-6 ताजे आवाले का रस निकालकर उसमें शहद मिलाकर पिए।

— त्रिफला चूर्ण का काढ़ा गुड़ मिलकर पीने से आराम मिलता है।

— दो प्याज की गांठ को बारीक काटकर एक गिलास पानी में उबले पानी आधा रहने पर छान कर पिए।

— अनार के छिलके का पाउडर बनाएं। ताजा पानी में एक चम्मच पाउडर दो-तीन बार प्रतिदिन सेवन करें।

— ककड़ी को बारीक काटकर और उसमें मिश्री मिलाकर सलाद के रूप में खाने से पेशाब का रोग खत्म होता है।

— 4 चम्मच मूली का रस जरा सा सेंधा नमक डालकर पिए।